डा. मनोज राजोरिया ने संसद मे चिकित्सा सेवा के मुद्दे को भी आगे बढाया।

डा. मनोज राजोरिया ने संसद मे चिकित्सा सेवा के मुद्दे को भी आगे बढाया जिसमे वे करौली जिले मे एक मेडीकल कॉलेज खोलने का आह्वान कर रहे है उनका कहना है की करौली मे खनन व कृषि, पत्थर के कम ज्यादा किया जाता है| जिससे मजदुर वर्ग को होने वाली सामान्य बिमारी के लिए यहा से कई की.मी. दूर जयपुर जाना पड़ता है|
अगर मेडिकल कॉलेज की सुविधा करौली जिले को मिल जाये तो हर वर्ग यहाँ पर मेडिकल की पढाई के साथ-साथ मरीजो को समय पर उपचार मिल जायेगा|