ऋण का सही उपयोग कर आत्मनिर्भर बनें

सांसद डॉ. मनोज राजौरिया ने प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का किया शुभारंभ

कार्यालय संवाददाता|करौली
सांसदडॉ. मनोज राजौरिया ने सोमवार को कलेक्ट्रेट स्थित सूचना केंद्र में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना को शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने लाभार्थियों को ऋण ऋण वितरण किया। मुख्य अतिथि के रूप में कार्यक्रम में आए सांसद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इस याेजना की प्रशंसा की। और कहा कि मुद्रा योजना निश्चित रूप से वरदान साबित होगी। इससे छोटे-छोटे उद्योग धंधों को बढ़ावा मिलेगा और मेहनतकश लोगों को साहूकारों से कर्ज लेने से छुटकारा भी मिलेगा।
जिले की लीड बैंक (बैंक ऑफ बड़ौदा) के बैनरतले प्रधानमंत्री मुद्रा योजनांतर्गत चेक वितरण समारोह में जिलेभर के 792 लाभार्थियों को 3 करोड़ 5 लाख 40 हजार रुपए की राशि का ऋण बांटा गया। समारोह में राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति के सहायक महाप्रबंधक आर.के.मीना, बीओबी भरतपुर के उप क्षेत्रीय प्रमुख एम.पी.शर्मा, जिला अग्रणी प्रबंधक ओपीएस पालावत, भाजपा जिला महामंत्री जयेंद्र सिंह एडवोकेट जिला बार संघ के अध्यक्ष एडवोकेट धीरेंद्र सिंह बैसला आदि मंचस्थ थे।
सांसद राजौरिया ने कहा कि साहूकारों के कर्ज में दबे लोग कभी उबर नहीं पाते,कईयों की पीढियां इस दर्द से गुजर गईं। उन्होंने प्रधानमंत्री के स्वच्छता अभियान की सफलता की जानकारी दी।
कार्यवाहक एडीएम जिप सीईओ महेंद्र लोढ़ा ने कहा कि छोटे से छोटा ऋण अब आसानी से मिलेगा। लघु श्रेणी के कामगार आसानी से व्यापार को आगे बढ़ा सकते हैं। उन्होंने लाभार्थियों को लोन की राशि का सही उपयोग करने की सीख दी। लोढा ने आईएवाई की तरह राशि का गलत इस्तेमाल नहीं करने की नसीहत दी और कर्ज चुकाने को चुनौती के रूप में लेने को कहा। इससे पूर्व एलडीएम ओपीएस पालावत ने योजना का जानकारी दी।
तीन कैटेगरी के
प्रधानमंत्रीमुद्रा योजना में तीन कैटेगरी में ऋण मुहैया कराना निर्धारित है। शिशु योजना में 50 हजार तक,किशोर में 5 लाख और तरुण योजना में 10 लाख तक ऋण मुहैया होगा। जिले में शुभारंभ पर योजना का पहला चेक करौली के सायनाथ खिडकिया निवासी सुलेमान को दिया गया। करौली जिले में 19 बैंकों ने शिशु के 717 लोगों को 152.87 लाख,किशोर के 72 लाभार्थियों को 126.53 तरुण के 3 लाभार्थियों को 26 लाख की राशि के चेक बांटे।
17जिलों में आरंभ
प्रधानमंत्रीमुद्रा योजनांतर्गत लोन मेगा कैंपेन का शुभारंभ करौली सहित प्रदेश के 17 जिलों में 28 सितंबर से एक साथ हुआ है। सबसे पहले करौली जिले में इसकी शुरुआत हुई है। राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति,जयपुर के सहायक महाप्रबंधक आर.के.मीना ने कहा कि पीएम ने 18 अप्रेल 2015 को योजना का आगाज किया,देशभर में करीब 5 करोड़ 77 लाख लोगों को ऋण मुहैया कराना निर्धारित किया।