डॉ. मनोज राजोरिया (सांसद करौली-धौलपुर) ने दिनांक 03-01-2016 को किया जिला चिकित्सालय का औचक निरीक्षण!

IMG-20160104-WA0009

डॉ. मनोज राजोरिया (सांसद करौली-धौलपुर) ने दिनांक 03-01-2016 को जिला अस्पताल करौली का औचक निरीक्षण किया| प्रातः 9:15 बजे माननीय सांसद जी अस्पताल पहुँचे और सर्वप्रथम डॉक्टर्स एवं नर्सिंग स्टाफ का उपस्थिति रजिस्टर चैक किया व सभी को समय पर उपस्थित रहने के निर्देश दिए| इसके बाद उन्होंने आउटडोर में डॉक्टर्स की अनुपस्थिति देखकर अपनी नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए सीएमओं को आउटडोर में डॉक्टर्स की उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए साथ ही प्रत्येक डॉक्टर द्वारा आउटडोर में प्रतिदिन कितने मरीज़ देखे इसका विवरण भी प्रत्येक माह उन्हें उपलब्ध करने के भी निर्देश दिए| इसके बाद उन्होंने बच्चों के वार्ड एवं सामान्य इनडोर वर्ड्स का विजिट कर मरीजों से उनको मिल रही निःशुल्क दवा एवं इलाज के बारे में पूछताछ की| अधिकतर मरीजों द्वारा मुफ्त इलाज और चिकित्सकों एवं नर्सिंग स्टाफ की सेवाओं को संतोषजनक बताया गया| इसके लिए माननीय सांसद जी ने मुफ्त इलाज एवं अच्छी सेवाओं के लिए चिकित्सकों एवं नर्सिंग स्टाफ की प्रशंसा करते हुए कहा की मरीजों का इलाज सेवा भाव से किया जाना चाहिए| इस दौरान उन्होंने वर्ड्स में जगह-जगह गंदगी देखकर नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए प्रत्येक वार्ड में मरीज़ के पास डस्टबिन रखने तथा गंदी दीवारों को तुरन्त साफ़ कराये जाने के निर्देश दिए| निरीक्षण के दौरान उन्हें एक कर्मचारी गुटखा खाते हुए मिला, जिसपर उन्होंने उसके खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश दिये साथ ही ड्यूटी टाइम पर गुटखा-जर्दा खाने पर रोक लगाने के निर्देश जारी करने को ल्कः| तत्पश्चात उन्होंने मुख्यमंत्री जी द्वारा घोषित जन लाभ की महत्वपूर्ण घोषणा भामाशाह आरोग्य कार्ड स्वस्थ्य बीमा योजना में किये जा रहे बीमाओं की समीक्षा की तथा सभी को निर्देश दिये कि इस योजना का अधिक से अधिक लोगों को लाभ दें और प्रत्येक माह इसकी प्रगति पेश करें| अस्पताल परिसर में बंद व ख़राब पड़ी दो एम्बुलेंसों के बारे में जानकारी हासिल कर उन्होंने अपनी नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए इनको तुरन्त ठीक करा कर मरीजों की सेवाओं में उपलब्ध कराये जाने के निर्देश दिये| अंत में अस्पताल परिसर में अनियंत्रित भीड़ देख कर उन्होंने गार्ड्स की व्यवस्था की जानकारी ली और मार्च में निकलने वाले टेंडर में पूर्व सैनिकों को ही भर्ती करने के निर्देश दिये| इस निरीक्षण के बाद माननीय सांसद जी ने हिण्डौन के लिए प्रस्थान किया|