सांसद डॉ मनोज राजोरिया ने संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान नियम 377 के तहत राजाखेडा में सिविल एयरपोर्ट बनवाये जाने का मुद्दा उठाया|

maxresdefault

डॉ मनोज राजौरिया (सांसद करौली-धौलपुर) ने लोक सभा में बोलते हुए कहा कि मेरे संसदीय क्षेत्र के जिला धौलपुर में राजाखेडा की आगरा से दूरी 20-30 किमी है। राजाखेडा से 20-25 मिनट में सडक मार्ग द्वारा आगरा पहुंचा जा सकता है। आगरा पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण है  यहाँ पर दुनिया का सातवां अजूबा के रूप में ताजमहल स्थित है। आगरा में सिविल एयरपोर्ट नहीं है। राजाखेडा में सिविल एयरपोर्ट बन जाता है तो आगरा आने वाले पर्यटकों को की संख्या में वृद्धि होगी बल्कि राजस्थान के धौलपुर, भरतपुर, करौली जिलों तथा मध्य प्रदेश के मुरैना व ग्वालियर जिलों व आगरा के निवासियों को एयरलाइन्स की सुविधा प्राप्त होगी और इन क्षेत्रों के विकास का मार्ग प्रशस्त होगा। राजाखेडा में एयरपोर्ट के लिए पर्याप्त भूमि उपलव्ध है। अतः केन्द्र सरकार से अनुरोध है कि धौलपुर जिले के राजाखेडा में सिविल एयरपोर्ट बनवाए जाने की कार्यवाही करावें|