ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना

Transport-voucher-scheme

ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना की शुरुआत बालिकाओ को उच्च शिक्षा की प्राप्ति को बढ़ने के लिए हुई क्योंकि बालिकाओ द्वारा स्कूलों के घर से दूर होने के कारण बाधा आती थी उसी को देखते हुए राज्य सरकार ने ये योजना बनायीं ।
ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना का लाभ अब पंचायत समिति स्तरीय 6 से 8 की 2 किलोमीटर से अधिक की दूरी से अध्ययन हेतु आने वाली बालिकाओं को भी मिलेगा।
इसके अनुसार पंचायत समिति स्तरीय स्वामी विवेकानंद राजकीय मॉडल स्कूलों में अध्ययनरत कक्षा 6 से 8 तक की 2 किलोमीटर से अधिक दूरी से आने वाली और कक्षा 9 से 12 तक निवास स्थान से 5 मिलोमीटर से अधिक की दूरी वाली समस्त बालिकाओं को ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना का लाभ मिलेगा। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्र के अन्य माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों की कक्षा 9 से 12 की 5 किलोमीटर से अधिक दूरी से अध्ययन हेतु आने वाली बालिकाएं भी इससे लाभान्वित होंगी।
इससे प्रदेश की लाखों बालिकाओं को विद्यालय से जहां जोड़ा जा सकेगा वहीं जैण्डर गैप को कम करने में भी इससे मदद मिलेगी। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे द्वारा बालिका शिक्षा को प्रोत्साहन के लिए उठाए गए कदमों की बजट घोषणा अंतर्गत राज्य सरकार ने यह निर्णय किया है। उन्होंने बताया कि योजनान्तर्गत बालिका एकल व सामूहिक ट्रांसपोर्ट सुविधा का लाभ ले सकती है।
अभिभावक द्वारा सामुहिक टांसपोर्ट सुविधा नहीं लेने की स्थिति में लिखित में आवेदन प्रस्तुत करने पर छात्राओं को निर्धारित अधिकतम राशि अथवा वास्तविक व्यय में जो भी कम हो, उपलब्ध कराया जाएगा। राजकीय विद्यालयों में कक्षा 9 में प्रवेश लेने वाली समस्त बालिकाओं को साईकिल योजना अन्तर्गत भी लाभान्वित कराया जा रहा है। छात्रा दोनों योजनाओं में से किसी भी एक योजना का लाभ ले सकती है।
नए आदेशों के मुताबिक इस योजना का लाभ उन बालिकाओं को मिलेगा जिसने पहले निशुल्क साइकिल नहीं ली हो। इसके तहत अब पांच किमी दूर तक गांव से शहर आने वाली बालिका को भी इस योजना में लाभान्वित किया जाएगा।
इस ट्रांसपोर्ट वाउचर योजना का संचालन राज्य स्तर पर राजस्थान माध्यमिक शिक्षा परिषद एवं विद्यालय स्तर पर विद्यालय विकास एवं प्रबंधन समिति अथवा विद्यालय प्रबंधन समिति द्वारा किया जावेगा।
मैं इस योजना के लिए राजस्थान माध्यमिक शिक्षा परिषद एवं विद्यालय स्तर पर विद्यालय विकास एवं प्रबंधन समिति अथवा विद्यालय प्रबंधन समिति एवं श्रीमती वसुंधरा राजे जी का आभार व्यक्त करता हु की उन्होंने बेटियो के सक्षम एवं विकास हेतु इस योजना को प्रारम्भ किया ।